WhatsApp Group Join Now

मौसम व मूंग तेजी मंदी रिपोर्ट भविष्य 2023

राम राम किसान साथियों आज 5 जून 2023 को एक बार फिर नई जानकारी लेकर आपके सामने हाजिर हुए हैं, इस पोस्ट के माध्यम से हम जानेंगे कि खराब मौसम के बाबजूद मूंग कि अगेती बिजाई व भविष्य 2023मे मूंग कि तेजी मंदी रिपोर्ट के बारे में जानकारी विस्तार से जानेंगे, हर रोज मौसम व ताजा मंडी रेट के बारे में सबसे पहले और सटीक जानकारी के लिए हमारी वेबसाइट पर विजिट करें,
www. haryanamandibhav.com

खराब मौसम के बावजूद पंजाब की मंडियों में नई मूंग की आवक शुरू हाल के दिनों में हुई वर्षा के बावजूद पंजाब में अगती बिजाई वाली फसल की मूंग के नए माल की आवक विभिन्न उत्पादक क्षेत्रों की मंडियों में होने लगी है। ग्रीष्मकालीन या जायद सीजन में उत्पादित इस मूंग का औसत मंडी भाव 7182 रुपए प्रति क्विंटल चल रहा है। जो न्यूनतम समर्थन मूल्य 7755 रुपए प्रति क्विंटल से करीब 600 रुपए कम है। फिलहाल पंजाब के पांच जिलों-अमृतसर बरनाला, लुधियाना, तरन तारन एवं संगरूर में नई मूंग की आवक शुरू हुई है। जबकि जल्दी ही अन्य उत्पादक जिलों में भी इसकी आपूर्ति आरंभ होने की उम्मीद है। विभिन्न मंडियों से प्राप्त आंकड़ों के अनुसार 2 जून 2023 तक पंजाब में कुल 1084 टन नई मूंग की आपूर्ति हुई जो गत वर्ष की समान अवधि की आवक से 39 प्रतिशत ज्यादा है।

इसमें से 885 टन मूंग की खरीद 5850 से 8515 रुपए प्रति क्विंटल के मूल्य स्तर पर (क्वालिटी एवं कमी के आधार पर) पर की गई। पूरी मात्रा की खरीदारी प्राइवेट व्यापारियों ने की। उपलब्ध आंकड़ों के अनुसार तरन तारन जिले में 165 टन मूंग की खरीद हुई जिसमें 162 टन की खरीद न्यूनतम समर्थन मूल्य से कम दाम पर की गई। बरनाला जिले में 97 टन, अमृतसर जिले में 292 टन, लुधियाना में 500 टन तथा संगरूर जिले में 30 टन मूंग की आवक हुई। लुधियान जिले मैं करीब 200 टन मूंग अब तक मंडियों में पड़ी हुई है।

50 टन की बिक्री समर्थन मूल्य से कम दाम पर हई जबकि शेष भाग के लिए किसानों को बेहतर मूल्य प्राप्त हुआ। हाल की भारी बारिश के कारण कुछ क्षेत्रों में मूंग फसल की तुड़ाई-तैयारी में बाधा पड़ी लेकिन साथ ही फसल को फायदा भी हुआ। अब मौसम साफ हो गया है। और उम्मीद की जा रही है। कि 10 जून से तुड़ाई तैयारी की रफ्तार काफी तेज हो जाएगी। कुछ क्षेत्रों में खेतों में जल जमाव के कारण मूंग की फसल को थोड़ा-बहुत नुकसान होने की आशंका भी है।

आमतौर पर मूंग की तुड़ाई तीन चरणों में होती है लेकिन इस बार तीसरे चरण की तुड़ाई शायद संभव नहीं हो पाएगी और भारी वर्षा वाले इलाकों में इसकी औसत उपज दर भी कुछ घट सकती है।

नोट – व्यापार अपने विवेक से करे हम किसी भी प्रकार की लाभ हानि कि जिमेदारी नहीं लेते हैं, यह मंडी भाव विभिन्न स्रोतों से एकत्रित करके इस पोस्ट के माध्यम से आप तक ताजा भाव लेकर हाजिर हुए हैं, अधिक जानकारी के लिए अपनी नजदीकी मंडी में मंडी भाव कॉन्फ्रम कर ले या पता कर लें। आशा करते हैं यह पोस्ट आपके लिए उपयोगी होगी

Leave a Comment

error: Content is protected !!